घनश्याम गुप्त

>> Monday, March 23, 2009

video

घनश्याम जी हिंदी मार्तंड है, गीत और नज्म दोनों ही बखूबी से लिखते है

video

video

जब शब्द अधर पर आये तो वे गज़लों में अंजाम हुए ,कविता की अभिनव शैली में ढल जाहिर सभी कलाम हुए
मन की हर मधुर भावना को कलियों की नाजुकता से छू, भावों की प्यास मरुथली को ये गीतों के घनश्याम हुए

0 comments:

  © 2009 Designed by:www.aroradirect.com